Home अपराध पटना में घर मे घुस कर महिला शिक्षक का अपहरण | 20 की संख्या में रहे बदमाशों ने किया अपहरण | 22 वर्षीय शिक्षिका का हुआ अपहरण |

पटना में घर मे घुस कर महिला शिक्षक का अपहरण | 20 की संख्या में रहे बदमाशों ने किया अपहरण | 22 वर्षीय शिक्षिका का हुआ अपहरण |

0
पटना में घर मे घुस कर महिला शिक्षक का अपहरण | 20 की संख्या में रहे बदमाशों ने किया अपहरण | 22 वर्षीय शिक्षिका का हुआ अपहरण |

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान यह कहा जा रहा था कि अगर आरजेडी सत्ता में आएगी तो यहां फिर से जंगलराज कायम हो जाएगा। लेकिन चुनाव बाद यहां बढ़ रही आपराधिक घटनाओं को देखते हुए यह लगने लगा है कि यहां जंगलराज की वापसी हो चुकी है। बिहार की राजधानी पटना से ऐसी परेशान करने वाली घटना सामने आ रही है।

यहां फुलवारी शरीफ में देर रात करीब 20 लोगों की संख्या में आए कार सवार बदमाशों ने एक 22 वर्षीय लड़की का अपहरण कर लिया है। मामला नोहसा इलाके का बताया जा रहा है, जहां हथियार बंद बदमाशों ने अपहरण की घटना को अंजाम दिया है। जिस लड़की का अपहरण हुआ है वह बच्चों को ट्यूशन पढ़ाती है। घटना के वक्त परिजनों के शोर मचाने पर ग्रामीणों ने बदमाशों को खदेड़ना चाहा तो उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। इस तरह फायरिंग करते हुए बदमाश लड़की को लेकर फरार हो गए।
फायरिंग और युवती के घरवालों की आवाज सुनकर क्षेत्र के लोग बड़ी संख्या में जमा हो गए। इसके बाद घटना से नाराज लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई और किसी तरह लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। वहीं इस घटना से स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है। मोहम्मद फिरोज उर्फ अफरोज पर लड़की का अपहरण करने का आरोप लगा है। वहीं पुलिस को घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज में बदमाशों की कुछ तस्वीरें मिली हैं। थानेदार आर. रहमान ने बताया कि कुछ बदमाशों ने बंदूक के बल पर युवती का अपहरण किया है। युवती के घर के बगल में ही आरोपी फिरोज के घर का निर्माण चल रहा है, जो मूलतः सहरसा का रहने वाला है। पुलिस को शुरुआती जांच में पता चला है कि युवती आरोपी फिरोज के घर पढ़ाने जाती थी।

फिलहाल पुलिस हर पाहलू से जांच कर रही है। बिहार में लगातार बढ़ रही आपराधिक घटनाओं ने से लोगों में भय व आक्रोश का माहौल बनता जा रहा है। कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कई बार अधिकारियों के साथ बैठक कर जरूरी दिशा-निर्देश भी दे चुके हैं। पुलिस प्रशासन ने भी कई जरूरी कदम भी उठाए हैं। बावजूद इसके आपराधिक घटनाओं पर कोई अंकुश नहीं लग पा रहा है। घर में घुस कर युवती का सरेआम अपहरण किया जाना प्रदेश में जंगलराज की आहट की तरफ इशारा कर रहा है।