होम अपराध हत्यारे विकाश दुबे का खौफ, पानी के लिए लेनी होती थी इजाजत,...

हत्यारे विकाश दुबे का खौफ, पानी के लिए लेनी होती थी इजाजत, क्यों जेसीबी की मदद से तोड़ा गया था विकास दुबे का घर, पुलिस ने बताई ये वजह

पुलिस ने हाल ही में विकास दुबे (Vikas Dubey) के घर को पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया था। पुलिस ने शुक्रवार को कानपुर मुठभेड़ के बाद ये कदम उठाया था और शनिवार को विकास दुबे (Vikas Dubey) के कानपुर वाले घर को और घर के अंदर खड़ी गाड़ियों को नष्ट किया गया था। वहीं विकास दुबे (Vikas Dubey) के घर को ध्वस्त करने को लेकर अब पुलिस ने अपना स्पष्टीकरण जारी किया है और बताया है कि आखिर क्यों उन्होंने विकास दुबे (Vikas Dubey) के घर को जेसीबी की मदद से तोड़ने का फैसला लिया था।

यहां क्लिक करे : आप हमें भारत की पॉपुलर रेडियों सिटी ”खबरी” पर भी फॉलो कर सकते है।

पुलिस के अनुसार विकास के घर में जब छापा मारा गया था। तो पुलिस को घर में से भारी मात्रा में गोला-बारूद मिला था। पुलिस ने अपने बयान में कहा है कि विकास दुबे (Vikas Dubey) के घर की छत, दीवारों और जमीन से भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद किया गया हैं और इन्हें निकालने के लिए ही घर को तोड़ा गया था।

यहां क्लिक करे : आप हमें भारत की पॉपुलर रेडियों सिटी ”खबरी” पर भी फॉलो कर सकते है।

ये स्पष्टीकरण आईजी दफ्तर की और से जारी किया गया है। इस लिखित बयान के अनुसार विकास (Vikas Dubey) ने अपने घर की दीवारों, छत और फर्श पर गुप्त स्थान बनाकर उनमें हथियार और बारूद छुपा रखे थे। खुदाई करने के कारण भवन असुरक्षित हो गया था और इस कारण चौबेपुर पुलिस ने जेसीबी का इस्तेमाल किया था।

कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल ने भी कल कहा था कि विकास ने घर की दीवारों में हथियार और कारतूस चुनवा रखे थे। आईजी मोहित अग्रवाल के अनुसार विकास दुबे (Vikas Dubey) के गिराए गए घर से पुलिस को हथियार मिले हैं। पुलिस को सूचना मिली थी कि विकास ने घर में हथियार छिपाए हुए थे। जिसके कारण घर तोड़ना पड़ा।

यहां क्लिक करे : आप हमें भारत की पॉपुलर रेडियों सिटी ”खबरी” पर भी फॉलो कर सकते है।

गौरतलब है कि शुक्रवार को पुलिस की एक टीम विकास दुबे (Vikas Dubey) को एक केस की सिलसिले में गिरफ्तार करने के लिए बिकरू गांव गई थी। लेकिन पुलिस रेड की जानकारी पहले से ही विकास दुबे (Vikas Dubey) को मिल गई थी। जिसके बाद विकास दुबे (Vikas Dubey) ने जेसीबी की मदद से पुलिस की टीम का रास्ता रोक लिया था। वहीं जैसे ही पुलिस आगे बढ़ने लगी तो विकास दुबे (Vikas Dubey) और उसके बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। वहीं पुलिस ने विकास दुबे (Vikas Dubey) के घर को गिराने के लिए उसी जेसीबी का इस्तेमाल किया गया है, जिसके जरिए पुलिस टीम को घेरा गया था।

विकास दुबे पर रखा 1 लाख का इनाम

विकास दुबे (Vikas Dubey) तीन दिनों से फरार है और विकास दुबे (Vikas Dubey) की गिरफ्तारी के लिए यूपी के सारे बॉर्डर को सील तक कर दिया गया है। साथ में ही पुलिस ने नेपाल से जुड़े सातों जिलों में विशेष अलर्ट भी जारी किया है। पुलिस ने विकास दुबे (Vikas Dubey) के ऊपर 1 लाख का इनाम भी रखा है। यूपी पुलिस और एसटीएफ की 20 टीमें और तीन हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी विकास (Vikas Dubey) की तलाश में लगाए गए हैं। नेपाल भागने की आशंका को देखते हुए नेपाल बॉर्डर से सटे सातों जिलों में विशेष अलर्ट किया गया है। इसके साथ ही विकास के ऊपर इनाम की राशि को बढ़ाकर एक लाख रुपये कर दिया गया है। लेकिन अभी तक विकास दुबे (Vikas Dubey) फरार है।

यहां क्लिक करे : आप हमें भारत की पॉपुलर रेडियों सिटी ”खबरी” पर भी फॉलो कर सकते है।

खौफ का दूसरा नाम है विकाश दुबे

विकास दुबे (Vikas Dubey) का नाम आज हर किसी की जुबान पर है। लेकिन बिकरू गांव और आसपास के लोगों के लिए यह नया नाम नहीं है। उसका खौफ ऐसा था कि एक समय बिना विकास की इजाजत के कोई पानी भी नहीं पी सकता था। फैक्ट्रियां उसे चंदा पहुंचाती थीं और नाम लेने भर से बसों में किराया नहीं लिया जाता था।

बुलेट गैंग बनाकर कर घूमता था विकाश दुबे

विकास दुबे (Vikas Dubey) का नाम आज हर किसी की जुबान पर है। 3 दशक पहले पिता के अपमान का बदला लेने के लिए लोगों की पिटाई करने से लेकर बुलेट गैंग बनाकर घूमने वाले लड़के के पीछे आज पूरे प्रदेश की पुलिस और एसटीएफ हाथ धोकर पीछे पड़ी है। लेकिन बिकरू गांव और आसपास के लोगों के लिए यह नया नाम नहीं है। उसका खौफ ऐसा था कि एक समय बिना विकास की इजाजत के कोई पानी भी नहीं पी सकता था। फैक्ट्रियां उसे चंदा पहुंचाती थीं और नाम लेने भर से बसों में किराया नहीं लिया जाता था।

यहां क्लिक करे : आप हमें भारत की पॉपुलर रेडियों सिटी ”खबरी” पर भी फॉलो कर सकते है।

फैक्ट्रियों से चढ़ावा लेता था विकाश दुबे

विकास दुबे (Vikas Dubey) का खौफ ऐसा था कि आसपास की लगभग हर फैक्ट्री से उसको चढ़ावा भेजा जाता था। जीटी रोड के किनारे बस चौबेपुर इंडस्ट्रियल एरिया में करीब 400 फैक्ट्रियां हैं। नामी फैक्ट्रियों से उसे सालाना चंदा मिलता था। विकास (Vikas Dubey) की कमाई का दूसरा बड़ा जरिया विवादास्पद संपत्ति को खरीदना था। क्षेत्र में किसी भी संपत्ति की खरीद-बिक्री पर विकास को टैक्स देना जरूरी था।

यहां क्लिक करे : आप हमें भारत की पॉपुलर रेडियों सिटी ”खबरी” पर भी फॉलो कर सकते है।

पानी लिए लोगो को लेना होता था इजाजत

स्थानीय लोगों के अनुसार कई साल पहले गांव में पानी के लिए नल नहीं लगे थे। पानी की समस्या होने पर लोग विकास के घर के पास बने कुएं से पानी भरने आते थे। इसके लिए उन्हें बाकायदा दुबे (Vikas Dubey) से इजाजत लेनी पड़ती थी। बिना इजाजत लिए पानी भरने पर वह बेरहमी से पिटाई करता। कई बार तो उसने ऐसा करने वालों को कुएं में गिराकर मार डालने तक की कोशिश की थी।

Avatar
Bunty Bhardwaj
Bunty Bhardwaj is an Indian journalist and media personality. He serves as the Managing Director of News9 Aryavart and hosts the all news on News9 Aryavart.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Click To Join Us on Telegram Group

Must Read

बड़ी खबर : आरा पर्यवेक्षण गृह के अधीक्षक पर बड़ा आरोप, पढ़िए अधीक्षक मामले की पुरी दास्तां ! ब्लैकमेल कर बनाया शारीरिक संबंध !

बिहार के आरा से एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां पर्यवेक्षण गृह के अधीक्षक पर जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाने...

आरा में कोरोना के मरीज छोड़ भागे परिजन,अस्पताल में मची अफरा—तफरी

आरा सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में रविवार की दोपहर उस समय अफरा-तफरी मच गई। जब एक कोरोना के संदिग्ध मरीज...

ADG ने सर्विस रिवाल्वर से खुद को मारी गोली, 1992 बैच आईपीएस अरविंद कुमार

मणिपुर के एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने शनिवार को दोपहर में अपने कार्यालय में कथित तौर पर खुद को गोली मार...

आरा में शराबबंदी कानून की उड़ रही धज्जियां, फिर से शराबियों का वीडियो वायरल…

भोजपुर जिले के बड़हरा थाना क्षेत्र के बबुरा गांव में खुलेआम अवैध देशी महुआ शराब का कारोबार हो रहा है। खुलेआम...

हैवानियतः दहेज के लिए बहू के गु्प्तांग में डाल दिया ब्लेड और माचिस की तीली, शरीर पर जगह-जगह काटा

बिहार के मोतिहारी जिले में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाले मामला सामने आया है, जहां दहेज के लालच में ससुराल...
Translate »