Home दुनिया भाजपा – जदयू सरकार में शिक्षा और रोजगार हुआ चौपट : मनोज मंजिल

भाजपा – जदयू सरकार में शिक्षा और रोजगार हुआ चौपट : मनोज मंजिल

0
भाजपा – जदयू सरकार में शिक्षा और रोजगार हुआ चौपट : मनोज मंजिल

आरा (अख्तर शफी-ब्यूरो प्रमुख)। नये बिहार के तीन आधार शिक्षा-स्वास्थ्य और रोजगार, 19 लाख रोजगार मांग रहा है नया बिहार नारों के साथ आइसा – इनौस पूरे बिहार में 7 फरवरी से 15 फरवरी तक  शिक्षा – रोजगार यात्रा निकाला है। शाहाबाद की यात्रा की शुरुआत आज वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के मुख्य परिषर में एक सभा के साथ कि गयी। यह यात्रा भोजपुर से होते हुए बक्सर, रोहतास, कैमूर, सिवान, गोपालगंज, मितिहारी तक जाएगी। यात्रा का समापन शिक्षा – रोजगार के लिए 1 मार्च को विधानसभा के घेराव के साथ होगी। सभा के पहले विश्वविद्यालय परिषर में स्थापित वीर कुँअर सिंह के मूर्ति पर भाकपा – माले जिला सचिव जवाहरलाल सिंह, इनौस के राष्ट्रीय अध्यक्ष व अगिआंव विधायक मनोज मंज़िल, इनौस राज्य अध्यक्ष व डुमराव विधायक अजित कुशवाहा सहित आइसा – इनौस के नेताओं ने माल्यर्पण किया। सभा का संचालन आइसा जिला अध्यक्ष पप्पू कुमार ने किया। सभा के अंत मे भाकपा – माले जिला सचिव जवाहरलाल सिंह ने झंडा दिखा कर शिक्षा – रोजगार यात्रा को रवाना किया। इस यात्रा का नेतृत्व इनौस राज्य अध्यक्ष व डुमराव विधायक अजित कुशवाहा, आइसा राज्य सचिव सबीर कुमार, इनौस जिला संयोजक, शिव प्रकाश रंजन, आइसा जिला सह सचिव सुशील यादव, जगदीशपुर आइसा प्रखंड सचिव कमलेश यादव कर रहे हैं। सभा को संबोधित करते हुए  मुख्य वक्ता मनोज मंज़िल ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के समय छात्रों – नौजवानों से डरी हुई भाजपा – जदयू की एन डी ए ने  ने 19 लाख रोजगार देने का वादा किया था।  आज सरकार का  तीन महा होने जा रहा है लेकिन रोजगार के लिए नीतीश सरकार द्वारा कोई सकारात्म  कदम नही उठाया जा रहा है उल्टे रोजगार के जगह लोन देने की बात सामने आ रही है। आज बिहार में लगभग साढ़े चार लाख पदे खाली हैं। आज शिक्षा का स्तर भी बदतर हो गयी है। स्कूलों विश्विद्यालय में शिक्षकों, प्रोफेसरों को पदे रिक्त हैं। स्कूलों, लाइब्रेरी की घोर कमी है। 

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय में आयोजित माले का कार्यक्रम

सभा के मुख्य अतिथि भाकपा – माले जिला सचिव जवाहरलाल सिंह ने कहा कि विकास के तीन क्षेत्र होते हैं उद्योग, कृषि और सेवा जिसमे भाजपा – जदयू की सरकार सभी को समाप्त कर के रखा है। उन्होंने कहा कि  बिहार के नीतीश सरकार एक तरफ रोजगार के सवाल पर चुपी साधे हुईं हैं और दूसरे तरफ छात्र – नौजवानों को बोलने और आंदोलन करने पर जीवन खराब कर देने का तुगलकी फरमान जारी किया है। सभा को सम्बोधित करते हुए अजित कुशवाहा  ने कहा कि बिहार के छात्र – नौजवान 19 लाख रोजगार जे सवाल को एनडीए के जुमला साबित नही होने देंगे । सड़क पर छात्र – नौजवान और सदन में माले के विधायक संघर्ष करने और इस नीतीश सरकार को ठप कर के रख देंगे। नेताओं ने वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के वीसी को कार्यक्रम का परमिशन नही देने का कड़े शब्दों में आलोचना किया और कहा कि यह विश्वविद्यालय छात्रों – नौजवानों के है कोई तानाशाह वीसी का नही , उन्हें अपनी बात रखने का पूरा अधिकार है। अंत मे नेताओं ने 1 मार्च के विधानसभा घेराव में लाखों की संख्या में शामिल होने का आह्वान किया। सभा को भाकपा – माले जिला सचिव जवाहरलाल सिंह, मुख्य वक्ता इनौस के राष्ट्रीय अध्यक्ष व अगिआंव विधायक मनोज मंज़िल, इनौस राज्य अध्यक्ष व डुमराव विधायक अजित कुशवाहा, इनौस जिला संयोजक शिव प्रकाश रंजन ने सम्बोधित किया। सभा मे सुशील यादव,अंशु राज,राजू राम,निरंजन,केशरी, कमलेश यादव,सुधीर कुमार,हरिनारायण,सोनू, सियाकांत,अमरेंद्र,धीरेंद्र कुमार, भूषण यादव, अमित यादव, रवि कुमार,सुजीत कुमार, अभिषेक कुमार,  रौशन कुशवाहा, शाहनवाज आलम, सहित सैकड़ों छात्र – नौजवान शामिल थे।