होमविचारलेखन-शैली, विचार गाम्भीर्य और शिष्ट भाषा की प्रणाली की रक्षा करते हुए...

लेखन-शैली, विचार गाम्भीर्य और शिष्ट भाषा की प्रणाली की रक्षा करते हुए सभी प्रकार के नये-पुराने मतों को News9 Aryavart में स्थान दिया जाता है

News9 Aryavart देश में जातीय संघर्ष, दंगा-फसाद नहीं चाहता और न ही व्यक्ति-व्यक्ति में वैमनस्य पसन्द करता है। हम उन सभी बातों के पक्षधर हैं जिनसे भारत और भारतीयता का नाम विश्वमें रोशन हो। हमारा प्रयास यही रहता है कि व्यक्ति विशेष पर कटाक्ष न हो । उनके विचारों की समीक्षा और परीक्षा की जा सकती है । चरित्र-हनन से हमें परहेज है और न ही हम किसी की व्यक्तिगत जिन्दगी में ताक-झांक को पसन्द करते हैं। हमारा लक्ष्य अपना घर सम्भालने का है, दूसरों के घर ढहाने का नहीं । हां, अपना घर ठीक करने में यदि कोई किसी तरह की बाधा उपस्थित करता है तो हम उसका प्रतिकार अवश्य करेंगे।

Advertisement

हम मानते हैं कि राष्ट्र का एकमात्र अंग राजनीति नहीं है। वह साधन है, साध्य नहीं, वह माध्यम है, लक्ष्य नहीं। हम देश काल के अनुरूप शिक्षा के हिमायती हैं और इसके लिए हम निरन्तर संघर्षशील रहते हैं । हम चाहते हैं कि देश में ऐसी सर्वव्यापी शिक्षा की व्यवस्था हो जिससे लोग अपने अधिकार और कर्तव्य समझ सकें। हमारा उद्देश्य है कि शिक्षा ऐसी दी जाय जिससे शिक्षितों को रोजगार मिले। व्यापार, व्यवसाय, कृषि आदि की उन्नति पर News9 Aryavart हमेशा जोर देता रहा है, आज भी वह उसी नीति पर चल रहा है और आगे भी चलता रहेगा। हम मानते हैं कि धन और सम्पत्ति के बिना हमारा राष्ट्रीय जीवन निष्फल है। हमें हर नागरिक को पर्याप्त धन-धान्य, सुख-सुविधा मिले, यह भी देखना है।

News9 Aryavart धार्मिक और सामाजिक स्वतन्त्रता का पक्षधर है। हम चाहते हैं कि सभी धर्मों के लोग परस्पर मिलजुल कर स्नेह से रहें। हर आदमी यह समझे कि स्वराष्ट्र की उन्नति ही उसका सर्वश्रेष्ठ धर्म है। राष्ट्रभक्ति से ऊपर कोई धर्म नहीं।

लेखन-शैली, विचार गाम्भीर्य और शिष्ट भाषा की प्रणाली की रक्षा करते हुए सभी प्रकार के नये-पुराने मतों को News9 Aryavart में स्थान दिया जाता है। हम इस बात की बराबर कोशिश करते हैं कि मतों के प्रकाशन में राग-द्वेष, दलबन्दी, तटबन्दी आदि न आने पाये। हम यह मानते हैं कि एक जाति या देश को दूसरी जाति या देश पर अनुचित आक्रमण नहीं करना चाहिए। हर देश अन्य देशों के आक्रमण से संरक्षित रहे और अपने घर का प्रबन्ध करने में उसे पूरी आजादी प्राप्त हो। बाहर की दखलन्दाजी हमें बर्दाश्त नहीं। हमारी संस्कृति, सभ्यता और परम्परा सबसे पहले है। इनकी रक्षा के लिए News9 Aryavart कुछ भी कर सकता है।

“यह विचार News9 Aryavart के मैनेजिंग डाइरेक्टर बन्टी भारद्वाज द्वारा प्रस्तुत किया गया है।“

Kanchan Sharma
Kanchan Sharma is an Indian journalist and media personality. He serves as the Editor in Chief of News9 Aryavart and hosts the all news on News9 Aryavart in India.

Click To Join Us on Telegram Group

Must Read

Translate »