होम बिजनेस ऑनलाइन खरीदारी पर मिलेगी छूट तो व्यवसाई कहां से देंगे कर्मचारियों को...

ऑनलाइन खरीदारी पर मिलेगी छूट तो व्यवसाई कहां से देंगे कर्मचारियों को वेतन : प्रेम पंकज

आरा। शहजाद आलम “मोनू”। शहर के बांस टाल में शनिवार को व्यवसायी संध की बैठक की गई। बैठक में सोशल डिस्टेन्सिंग का ख्याल रखा गया। बैठक में व्यवसायियों ने सरकार द्वारा ऑनलाइन सामानों की खरीदारी पर छूट दिए जाने का पुरजोर विरोध किया। इस दौरान जिले के तमाम व्यवसायियों वीडियो कॉल के माध्यम से अपनी-अपनी बात रखी। जिले के मध्यम एवं छोटे व्यावसायियो ने कहा कि सरकार ने अगामी 20 अप्रैल से फ्रीज, टीवी, कुलर, मोबाइल व रेडीमेड गार्मेन्ट अमेजन, फ्लिप्कार्ट व स्नेपडील से ग्राहक ऑनलाइन खरीदारी का जो निर्णय लिया है यह सरासर गलत है।

व्यवसाई संघ आरा ने की प्रेसवार्ता

पिछले दो-तीन महिनो से मध्यम एवं छोटे दुकानदारों ने अपने शोरुमो व गोडाउन में माल भर कर रखा है। एक-दो माह में फ्रीज-कुलर का सीजन भी चला जाएगा, तो हम तो सब बर्बाद हो जाऐगें। हम व्यवसायियों के से काफी संख्या में गरीब परिवार के लोग जुड़े हुए हैं। इससे उनके सामने भी भुखमरी की समस्या उत्पन्न हो जाएगी। इसलिए सरकार द्वारा इस आदेश को जल्द से जल्द वापस लिया जाना चाहिए।

व्यवसायी संघ के अध्यक्ष प्रेम पंकज उर्फ ललन जी ने कहा

व्यवसायी संघ के अध्यक्ष प्रेम पंकज उर्फ ललन जी ने बताया कि कोविड-19 को लेकर राष्ट्रव्यापी लॉक डाउन देश में घोषित किया गया है। इस दौरान व्यावसायियो से अपने प्रतिष्ठान, फैक्ट्री बंद रखने के लिए भी सरकार द्वारा कहा गया है। हम सभी व्यवसायियो ऐसा ही कर रहे हैं। सरकार द्वारा व्यावसायियो से यह भी कहा कि वे अपने कर्मचारियों को व्यापार बंद होने पर भी पूरी तनख्वाह दे। सभी व्यावसायियो ने लगभग सभी स्टाॅफ को मार्च का पुरा वेतन एवं मानदेय भी दिया। लेकिन अप्रैल माह का पेमेंट कहां से देगें और कब तक देते रहेंगे? कुछ लोगों का कहना है किअखबारों के माध्यम से जानने को मिला कि विद्यालयों से भी फीस नही मांगने की बात कही जा रही है। सरकार के द्वारा अभी तक व्यापारियों के सहयोग के लिए क्या किया गया? यह समझ में अभी तक नहीं आया। आपने व्यापारी भाईयों के लिए कौन से सहयोग की प्लानिंग की हुई है? बंदी तो लागू है। सारे व्यापार पूर्णतया बंद है। कृप्या बताएं व्यापारी कैसे जिंदा रहेगा? निम्न खर्चे का सहयोग सरकार के तरफ से क्या होगा? तनख्वाह चालू, बिजली बिल चालू, जीएसटी चालू, बैंक ब्याज चालू, किराया चालू, हाउस टैक्स चालू, जल कर, रोड टैक्स इंश्योरेंस आदि सभी खर्च चालू है। व्यावसायियो के लिए भी राहत नहीं है। अगर उपरोक्त सभी खर्चो में राहत मिल जाए, तो हम व्यावसायी लॉक डाउन के बाद स्वावलंबी रह सकेंगे अन्यथा कुछ व्यापार उद्योग बंद हो जाएंगे। जिससे बहुत बड़ी संख्या में बेरोजगारी बढ़ेगी।

व्यावसायियों ने की सरकार से डिमांड

प्रेसवार्ता में शामिल व्यवसाई संघ के अध्यक्ष प्रेम पंकज व भोजपुर चैंबर के आदित्य विजय जैन

व्यवसायी संघ के अध्यक्ष प्रेम पंकज उर्फ ललन जी की व्यावसायियों का भी कुछ डिमांड है। जो सरकार को सुनना चाहिए। सभी कमर्शियल पर से फिक्स्ड चार्ज हटा दिया जाए और घरेलू बिजली बिल अगले 3 माह के लिए 50% कर दिया जाए। कंपनीज और फर्मो को अगले 12 महीने के लिए देय जीएसटी का 50% ही भुगतान करना हो। अगले 6 महीनों के लिए सभी प्रकार के ब्याज वा रोड टैक्स माफ किए जाए। हर प्रकार की ईएमआई को अगले 6 महीने के लिए बिना ब्याज के रोक दिया जाए। कर्मचारी का पीएफ के भुगतान में भी राहत हो और अगले 6 माह तक इसका भुगतान सरकार करें। प्रॉपर्टी कर वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए 50% तक घटा दिया जाए। भारत सरकार के द्वारा जैसे आप किसानों को बाढ़ और सूखे के समय राहत देते है।

पीएम सहित कई केंद्रीय मंत्री को देंगे निवेदन पत्र

प्रेसवार्ता में शामिल व्यवसाई संघ के अध्यक्ष प्रेम पंकज व अन्य व्यवसाई

प्रेम पंकज ने बताया कि इस सिलसिले में एक निवेदन पत्र पीएम नरेंद्र मोदी, केन्द्रीय गृह मंत्री अमित साह, वित मंत्री निर्मला सीतारमण, वाणिज्य कर मंत्री पियूष गोयल, बिहार के सीएम नीतीश कुमार, डिप्टी सीएम सुशील मोदी आदि को ईमेल एवं ट्विटर के माध्यम से भेजा गया है। इस मौके पर आदित्य विजय जैन, संजय जैन, प्रमोद कुमार, सन्नी शाहाबादी, आलोक अंजन, राजीव रंजन, नंदन कुमार, प्रिंस सिंह, रतन प्रताप एवं रितेश कुमार आदि व्यवसायी उपस्थित थे।

Avatar
Bunty Bhardwaj
Bunty Bhardwaj is an Indian journalist and media personality. He serves as the Managing Director of News9 Aryavart and hosts the all news on News9 Aryavart.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Click To Join Us on Telegram Group

Must Read

बड़ी खबर : आरा पर्यवेक्षण गृह के अधीक्षक पर बड़ा आरोप, पढ़िए अधीक्षक मामले की पुरी दास्तां ! ब्लैकमेल कर बनाया शारीरिक संबंध !

बिहार के आरा से एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां पर्यवेक्षण गृह के अधीक्षक पर जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाने...

आरा में कोरोना के मरीज छोड़ भागे परिजन,अस्पताल में मची अफरा—तफरी

आरा सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में रविवार की दोपहर उस समय अफरा-तफरी मच गई। जब एक कोरोना के संदिग्ध मरीज...

ADG ने सर्विस रिवाल्वर से खुद को मारी गोली, 1992 बैच आईपीएस अरविंद कुमार

मणिपुर के एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने शनिवार को दोपहर में अपने कार्यालय में कथित तौर पर खुद को गोली मार...

आरा में शराबबंदी कानून की उड़ रही धज्जियां, फिर से शराबियों का वीडियो वायरल…

भोजपुर जिले के बड़हरा थाना क्षेत्र के बबुरा गांव में खुलेआम अवैध देशी महुआ शराब का कारोबार हो रहा है। खुलेआम...

हैवानियतः दहेज के लिए बहू के गु्प्तांग में डाल दिया ब्लेड और माचिस की तीली, शरीर पर जगह-जगह काटा

बिहार के मोतिहारी जिले में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाले मामला सामने आया है, जहां दहेज के लालच में ससुराल...
Translate »